आखिर क्यों BCCI ने बैन किया इन दो क्रिकेटर्स को


BCCI BANNED THESE TWO CRICKETERS FOR 2 YEARS


कुछ समय से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) क्रिकेट में अपनी छवि सुधारने के लिए कड़े कदम उठा रहा है। क्रिकेट में भ्रष्टाचार एक मामला है या क्रिकेटर अपनी उम्र को गलत बताते हैं। हर मामले में, बीसीसीआई ने न केवल सख्ती बरती है, बल्कि तेजी से कार्रवाई भी की है। ताजा मामले में, बीसीसीआई ने दो ओडिशा क्रिकेटरों के खिलाफ अपनी गलत उम्र बताने के लिए कार्रवाई की है।



इन दोनों क्रिकेटरों का आरोप है कि उनके द्वारा दिए गए आयु संबंधी दस्तावेज फर्जी हैं और उनकी उम्र इसमें गलत है। क्रिकेट में जूनियर स्तर पर, अंडर 13, अंडर 16 या अंडर 19 जैसी श्रेणी के कई खिलाड़ी अपनी उम्र को गलत बताते हैं और इसके लिए फर्जी दस्तावेजों का भी सहारा लेते हैं। इस मामले में, ओडिशा के दो खिलाड़ियों राजेश मोहंती और कृष्णा पिल्लई पर दो साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। लेकिन इन क्रिकेटरों पर आरोप है कि उन्होंने जो आयु-संबंधित दस्तावेज दिए हैं, वे फर्जी हैं और उनकी उम्र इसमें गलत है। क्रिकेट में जूनियर स्तर पर, अंडर 13, अंडर 16 या अंडर 19 जैसी श्रेणी के कई खिलाड़ी अपनी उम्र को गलत बताते हैं और इसके लिए फर्जी दस्तावेजों का भी सहारा लेते हैं। इस मामले में, ओडिशा के दो खिलाड़ियों राजेश मोहंती और कृष्णा पिल्लई को दो साल के लिए प्रतिबंधित किया गया है।


OCA SECRETARY CONFIRMS -


दोनों खिलाड़ियों के निलंबन की पुष्टि करते हुए, ओडिशा क्रिकेट एसोसिएशन (ओसीए) के सचिव संजय बेहरा ने कहा कि दोनों खिलाड़ियों पर दो साल के लिए प्रतिबंध लगाया गया है क्योंकि उन्होंने अपनी असली उम्र छिपाने की कोशिश की थी।


चार साल पहले  20 खिलाड़ियों को किया था बैन -


वहीं, ओडिशा में इस तरह का यह पहला उदाहरण नहीं है। अक्टूबर 2016 में भी, बीसीसीआई ने ओडिशा के बीस खिलाड़ियों पर एक साल का प्रतिबंध लगाया था। इन खिलाड़ियों में 7 महिला क्रिकेटर्स और 12 अंडर 19 खिलाड़ी थे।


गौरतलब है कि चार साल पहले भी दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन ने सख्त कदम उठाते हुए दिल्ली के 22 क्रिकेटरों पर प्रतिबंध लगाया था। उन खिलाड़ियों पर उनकी उम्र के बारे में गलत जानकारी देने का मामला दर्ज किया गया था। इनमें नीतीश राणा और प्रत्यूष सिंह जैसे बड़े नाम शामिल थे।


No comments

Powered by Blogger.